wellhealthorganic.com simple ways to improve digestive system in hindi

हमारा खाना हमारे पेट में अच्छे से पच नहीं पता है तो यह हमारे पेट में विषैला टॉक्सिन बनाते हैं

जिससे हमारे शरीर में काफी सारी बीमारियां उत्पन्न होती है आज के साइंटिस्टों की माने तो 95% से ज्यादा बीमारियां हमारे पेट से उत्पन्न होती है

तो यह बहुत जरूरी है कि हमारा पाचन तंत्र सही हो ताकि हम किसी भी बीमारी का जड़ से इलाज कर पाए।

पर आपको इससे घबराने की बिल्कुल भी जरूरत नहीं है क्योंकि आज हम आपको कुछ ऐसे पांच घरेलू नुस्खे बताएंगे जिससे आप इस प्रॉब्लम से तुरंत छुटकारा पा सकते हैं।

1. जीरा वॉटर :- (How to improve digestive system)

मेरे हिसाब से जीरा वॉटर कमजोर पाचन तंत्र वाले लोगों के लिए सबसे अच्छी घरेलू नुस्खा है इसे बनाने के लिए आपको एक गिलास पानी लेना है और इसे गर्म करना है इसके बाद इसमें एक चम्मच जीरा डालना है

और इसे तब तक उबालना है जब तक की पानी आधा न हो जाए जब या ठीक से उबल जाए उसे एक गिलास में छान ले और इसे पी जाए

हो सके तो आप जिस जीरो को छाने है उसे भी चबा चबाकर खा जाए इससे आपको और भी फायदा होगा।

How to improve digestive system
How to improve digestive system

2. हींग वाटर :- (wellhealthorganic.com simple ways to improve digestive system in hindi)

हींग वाटर हमारे पेट में गैस की समस्या से छुटकारा देता है और खून का फ्लो बढ़ता है

आपको एक गिलास गर्म पानी लेना है इसमें दो चुटकी हींग पाउडर मिलना है इसके बाद आपको खाना खाने से 30 मिनट पहले इस पानी को धीरे-धीरे करके पी जाना है

इससे आपको डाइजेशन में काफी आराम मिलेगा। (wellhealthorganic.com simple ways to improve digestive system in hindi)

3. इसबगोल :- (pachan tantra in hindi)

इसबगोल हमारे कब्ज और लूज मोशन दोनों में काम करता है बस इसके लेने का तरीका थोड़ा सा अलग है अगर आपको कब्ज है तो इसबगोल को एक क्लास गर्म दूध में मिलाकर के रात को सोने के 30 मिनट पहले पी लेना है

वहीं अगर आपको लूज मोशन है तो थोड़ी सी दही लेकर उसमें एक चम्मच इसबगोल मिलाकर सुबह खाली पेट खा ले इससे आपको दोनों समस्याओं में आराम मिल जाएगा। पर ध्यान रखें कि इसबगोल को मिलाकर ज्यादा देर तक ना छोड़े क्योंकि या फूल जाता है तो इसे मिलने के तुरंत बाद ही इसको पी लें।

4. अजवाइन और शोफ :- (pachan kriya thik karne ke upay )

अजवाइन और शोफ दोनों ही हमारे डाइजेशन के लिए बहुत ही अच्छा उपाय है बस इसको खाने के तुरंत बाद आपको एक चुटकी अजवाइन या शोफ लेना है

और इसे चबा चबाकर खा जाना है यह आपके पाचन को बेहतर बना देगी और आप इसे आराम से पैक करके अपने पास रख भी सकते हैं आपने देखा होगा कि कई लोग इसे अपने साथ जरूर रखते करते हैं।

5. Aloevera juice :- (khana nahi pachta kya kare)

एलोवेरा अपने आप में ही इतना फाइबर्स होता है कि अगर कुछ भी हमारे आंतो में जमा हुआ है तो उसे निकाल बाहर फेंकने की क्षमता रखता है

बस आपको एक एलोवेरा का पट्टी लेना है उसमें से गूदा निकालकर हल्के गुनगुने पानी में इसे मिक्स करके सुबह खाली पेट में ले लें।

डाइजेशन इंप्रूव कैसे करें ? (पेट में गैस)

तो हमने ऊपर आपको जो भी बताया यह अगर आपके डाइजेशन में प्रॉब्लम है तो आपको तुरंत इससे आराम देता है

लेकिन हम इन सभी चीजों के अलावा कुछ और भी बात करेंगे जिससे हमारा डाइजेशन सिस्टम खराब होता है और कुछ हैबिट्स की बात करेंगे जिससे हम इंप्रूव करके अपने डाइजेशन को परमानेंटली ठीक कर सकते हैं।

1. पानी :- ( pachan kaise thik kare )

आयुर्वेद की माने तो अगर पानी को सही तरीके से पिया जाए तो हमारी आधी से अधिक बीमारियां इसी से खत्म हो जाती है क्योंकि पानी हमारे हाथों के सफाई के लिए जिम्मेदार होता है

और अगर हमारा पेट साफ होता है तो यहां से हमारी सारी बीमारियां खत्म हो जाती है तो हमें पानी को किस तरीके से पीना है या बहुत ज्यादा ध्यान देने योग्य है।

 खाने के साथ पानी क्यों नहीं पीना चाहिए ? (khatti dakar ka ilaj)

पानी को कभी भी खाने के साथ-साथ नहीं पीना चाहिए पानी हमेशा खाने के आधा घंटा पहले या आधा घंटा बाद ही पीना चाहिए क्योंकि जब हम खाना खाने के साथ पानी पीते हैं तो हमारा पाचन शक्ति कमजोर होता है और जो डाइजेस्टिव फायर होता है

जिससे भोजन पचता है वह कमजोर पड़ जाता है और हमारा पाचन अच्छे से नहीं हो पाता जिससे पेट में भोजन सड़ने लगता है और यहां से सारी बीमारियां उत्पन्न होने लग जाती है।

2. Food :- (wellhealthorganic.com simple ways to improve digestive system in hindi )

हम जो भी खाना खाते हैं उसका डाइजेशन पर सीधा प्रभाव पड़ता है और इस बात को हम अपने लाइफ में नजर अंदाज करते हैं

जब हम प्रोसेस्ड फूड पैकेट बंद बोतल बंद चिप्स कुरकुरे फास्ट फूड इत्यादि कहते हैं तो यह हमारे हाथों से जाकर चिपक जाता है और हमारे शरीर में टॉक्सिंस बनाते हैं जो कि ब्लड सर्कुलेशन के द्वारा पूरे शरीर में पहुंच जाता है (wellhealthorganic.com simple ways to improve digestive system in hindi)

 ड्राइवर रिच फूड खाने से क्या होता है ? ( khana pachane ke liye kya kare)

हमें यह ध्यान देना जरूरी है कि हम इन सभी खानों को जितना हो सके अवॉइड करना चाहिए और इसके जगह पर हमें फाइबर रिच फूड खाना चाहिए

और साथ ही आपको अपने डाइट में दही देसी घी फल इत्यादि को शामिल करना चाहिए फल की बात करें तो से वी अमरुद पाइनएप्पल और पपीता यह आपके लिए बेस्ट है जो आपके शरीर में एंजाइम्स को बनने में मदद करते हैं और इनका पाचन भी आसान होता है।

How to improve digestive system
How to improve digestive system

3. Exercise :- 

एक्सरसाइज हमारे पाचन में कितना अहम भूमिका निभाती है यह हम सब जानते हुए भी इसे इग्नोर कर देते हैं एक्सरसाइज करने से हमारे हाथों में ब्लड सर्कुलेशन इंक्रीज होता है

और साथ ही जो कुछ भी हमारे हाथों में फंसा हुआ है वह आगे चलने लगता है इससे हमारे हाथों में इकट्ठा टॉक्सिंस आसानी से निकल जाते हैं।

How to improve digestive system
How to improve digestive system

खाना खाने के बाद क्या करना चाहिए ? (how to improve digestive system)

तो अगर आपको अपना पाचन सही करना है तो खाना खाने के बाद 15 मिनट वॉकिंग जरूर करें और खास करके जब आप डिनर करते हैं तो आपको 15 मिनट वॉकिंग करना है।

अगर आप यह कर लेते हैं तो इसका रिजल्ट आपको सुबह तुरंत दिख जाएगा इसलिए आप जानबूझकर एक्सरसाइज को इग्नोर ना करें और जिंदगी में जितना हो सके उतना शरीर को ताकते रहे इससे आप जिंदगी भर के लिए स्वस्थ रहेंगे।

4. वज्रासन :- (improve digestive system in hindi)

हमारे ग्रंथो में बताया गया है कि वज्रासन हमारे पाचन क्रिया को कितना ज्यादा प्रभावित करता है अगर हम वज्रासन करते हैं तो हमारे पाचन क्रिया तेजी से होने लग जाती है।

सिर्फ वज्रासन ही एक ऐसा आसान है जिसे हम खाना खाने के बाद कर सकते हैं इससे हमारे पेट में ब्लड का सरकुलेशन बहुत ज्यादा होता है

इसे आप खाना खाने के बाद तीन से 5 मिनट कर सकते हैं या फिर रात को सोने से पहले 10 से 15 मिनट तक वज्रासन कर सकते हैं।

How to improve digestive system
How to improve digestive system

5. खाने को चबाकर खाएं :- (wellhealthorganic.com simple ways to improve digestive system in hindi )

यह सबसे इंपॉर्टेंट लाइफस्टाइल का हिस्सा है जो पाचन को डायरेक्टली प्रभावित करता है आप खुद बताएं कि आप भोजन को कितने बार चबाकर कहते हैं

आयुर्वेद की माने तो हमें हर एक निवाला को कम से कम 32 बार जरूर चलना चाहिए या हमारे भोजन को अच्छे से तोड़ देता है और पाचन करने में बहुत आसानी होती है।

How to improve digestive system
How to improve digestive system

अच्छे से खाना नहीं चबाने से क्या होता है ? (bloating stomach remedies)

अगर हम खाने को अच्छे से नहीं चबाते हैं तो हमारे भोजन को तोड़ने में पेट को बहुत ज्यादा मशक्कत करनी पड़ती है जिससे हमारे पाचन पर डायरेक्टली असर पड़ता है

और हमारा पाचन अच्छे से नहीं हो पता है जिससे पेट में ही भोजन सड़ने लगता है क्योंकि अगर जो भजन अच्छे से टूट नहीं पता है वह पच भी नहीं सकता तो यह जरूरी है कि आप हर एक निवाला को कम से कम 32 बार जरूर चबाकर खाएं।

 खाना खाते समय क्या नहीं करना चाहिए ? (pet fulne ka ilaj)

लेकिन हम खाते समय इसे भूल जाते हैं तो जब भी आप खाना खाएं आपका ध्यान पूरी तरीके से खाने पर होना चाहिए ना कि आप फोन या टीवी में लग रहे और खाना खाते जाएं

यही कारण है कि हम खाते समय चबाना भूल जाते हैं क्योंकि हमारा ध्यान कहीं और लगा रहता है तो मैं आपसे यही कहूंगा कि आप जब भी खाना खाए आप कोई दूसरा काम ना कर रहे हो। (wellhealthorganic.com simple ways to improve digestive system in hindi)

Leave a Comment

error: Content is protected !!